23 September 2021 , Thursday

गाजियाबादः ऋतु ने उठाया बेजुबान जानवरों का पेट भरने का बीड़ा

रिपोर्ट : समाचार TODAY
Official | गौतम बुद्ध नगर/नोएडा

23 Jun

596 ने देखा




कोरोना काल बेजुबान जानवरों के लिए कहर बनकर टूटा हैं. बेजुबान जानवर खाने की तलाश में इधर-उधर भटकते रहे लेकिन फिर भी पेट नहीं भर पाए. इस मुश्किल दौर में गाजियाबाद में एक लड़की घर से निकली और बेजुबान जानवरों का पेट भरा. गाजियाबाद की रहने वाली ऋतु बीते पांच सालों से बेजुबान जानवरों का पेट भरती आ रही है. ऋतु एक प्राइवेट कंपनी में नौकरी करती हैं जहां उसकी छोटी सी तनख्वाह है परिवार में अकेली कमाने वाली हैं और पिता का साया सिर से उठ चुका है लेकिन इस मुश्किल दौर में भी वो अपनी तनख्वाह से बेजुबान जानवरों को दोनों वक्त खाना खिलाती हैं. ऋतु ने बताया कि वो बचपन से देखती आई हैं कि लोग बेजुबान जानवरों के साथ अच्छा व्यवहार नहीं करते. बचपन से ही बेजुबान जानवरों के लिए कुछ करने की इच्छा थी. एक दिन दोस्तों के साथ मिलकर बेसहारा कुत्तों को खाना खिलाने की शुरुआत की.बता दें कि आवारा कुत्ते खाने की तलाश में सड़कों पर भटकते नजर आते हैं. खाना देना तो दूर लोग आवारा कुत्तों को पत्थर मारते नजर आते हैं. ऐसे में ऋतु स्कूटी पर हर दिन कुत्तों के लिए खाना लेकर निकलती हैं और बेसहारा कुत्तों का पेट भरती हैं.

FACEBOOK TwitCount LINKEDIN Whatsapp